Friday, March 13, 2020

Niyat Shayari | Niyat Quotes

ना मेरी नियत बुरी थी

ना उसमे कोई बुराई थी

सब मुक़द्दर का खेल था

बस किस्मत में जुदाई थी


Na meri niyat buri thi

Na usme koi burayi thi

Sab mukaddar ka khel tha

Bas kismat me judayi thi



Click For: Dard Shayari Hindi


"नीयत कितनी भी अच्छी हो दुनिया आपको 
आपके दिखावे से जानती है, 
पर दिखावा जितना भी अच्छा हो भगवान हमेशा 
आपको आपकी नीयत से जानता है I


Click For: Best Sad Quotes



Niyat kitni bhee achchhi ho duniya tumhen

tumhaare dikhave se janati hai,

Par dikhawa jitana bhi achchha ho

Bhagwan hamesha

aapako apaki

niyat se Janta hai...




मे इंसानियत की नियत पर हैरान होता हूं!!

खड़ा भिक्षुक देख, पंखी को दाना देता हूं!!

दया दिखाकर फिर आँख बंद कर लेता हूं!!

में अपनी पड़छाई पर रंग गिराता फिरता हूं!!



हमारी नियत का पता तुम क्या लगाओगे गालिब

हम तो नर्सरी में थे तब भी मैडम अपना पल्लू सही रखती थी

Click For: Hasi Shayari


Hamari niyat ka pata tum kya lagaoge Gaalib

Ham to nursery mein tab Bhi madam Apna palloo Sahi rakhti thi...



मेरा फोन नही उठाना है तो मत उठाओ.......!
बस इतना बता दो तबियत खराब है या नियत??



समय…
दूसरे की मदद करने का किसी के पास नहीं है।
पर दूसरे के काम में अड़गें डालने का सबके पास है…
इतनी जल्‍दी दुनिया की कोई चीज़ नहीं बदलती…
जितनी जल्‍दी इंसान की नीयत और नजरें बदल जाती है।



Samay Dusron Ki Madad Karne Ka
Kisi Ke Pass Nahi Hai…
Par Dusron Ke Kaam Mein
Adange Dalne Ka Sabke Pass Hai!
Etni Jaldi Duniya Ki Koi Chiz Nahi Badalti
Jitni Jaldi Insaan Ki…
Niyaat aur Nazrein Badal Jati Hai!!






0 comments:

Post a Comment